जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद: लक्षण, कारण और उपचार – Early Onset Cataracts: Symptoms, Causes and Treatment In Hindi

जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद

जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद क्या हैं – What Are Early Onset Cataracts In Hindi

जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंदजल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद आमतौर पर युवा लोगों में 40 साल की उम्र से पहले विकसित होता है, जिसके विकास के लिए अलग-अलग कारक जिम्मेदार हैं। इनमें आनुवंशिकी, चोट, कुछ दवाएं और गंभीर चिकित्सा स्थितियां शामिल हैं। इस प्रकार के मोतियाबिंद आमतौर पर उम्र से संबंधित मोतियाबिंद के रूप में दृष्टिहीन नहीं होते हैं। हालांकि, यह गंभीर दृष्टि समस्याएं पैदा करते हैं और इसके लिए आपको उपचार की जरूरत हो सकती है। जल्द शुरु होने वाले  मोतियाबिंद के उपचार में धुंधले लेंस को हटाने और इसे आर्टिफिशियल लेंस से बदलने के लिए सर्जरी शामिल है।

अगर आपको या आपके किसी परिचित को इस प्रकार का मोतियाबिंद है, तो निगरानी और देखभाल के लिए नियमित रूप से अनुभवी नेत्र रोग विशेषज्ञ से मिलना जरूरी है। उचित उपचार के साथ मोतियाबिंद वाले ज्यादातर लोग अच्छी दृष्टि बनाए रख सकते हैं। कभी-कभी जल्दी शुरु होने वाले मोतियाबिंद से दृष्टि हानि बिना बदलने वाली हो सकती है। मोतियाबिंद दुनिया में दृष्टि हानि का एक प्रमुख कारण है और यह किसी भी उम्र में हो सकता है। हालांकि, जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद एक अलग चिंता का विषय है, क्योंकि यह अपेक्षाकृत कम समय में गंभीर दृष्टि हानि का कारण बनता है। इस ब्लॉग पोस्ट में जल्दी शुरू होने वाले मोतियाबिंद के लक्षण, कारण और उपचार सहित सभी जरूरी बातों पर चर्चा करेंगे।

लक्षण – Symptoms In Hindi

Symptoms of Early Onset Cataractsजल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद के कई संभावित लक्षण हैं, लेकिन सबसे आम लक्षण धुंधली दृष्टि है। इसके अन्य संभावित लक्षणों में निम्नलिखित शामिल हैं:

दृष्टि का बिगड़ना

जल्दी शुरु होने वाले मोतियाबिंद के मुख्य लक्षणों में से एक बिगड़ती दृष्टि है। अगर आपके पास जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद है, तो समय के साथ आपकी दृष्टि धीरे-धीरे खराब हो रही है। इससे आपको पढ़ने, गाड़ी चलाने या अन्य गतिविधियों को करने में मुश्किल हो सकती है, जिसके लिए अच्छी दृष्टि की जरूरत होती है। कभी-कभी जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद से दृष्टि हानि अपरिवर्तनीय हो सकती है।

चकाचौंध और चमकते घेरे

चकाचौंध और चमकते घेरे इस प्रकार के मोतियाबिंद के एक अन्य सामान्य लक्षण हैं। इसका मतलब है कि आप रोशनी को असामान्य रूप से तेज देखते हैं या चमक पैदा करते हैं। साथ ही आप रोशनी के चारों तरफ चमकते घेरे देख सकते हैं। इससे आपके लिए रात में गाड़ी चलाना मुश्किल होता है। साथ ही आपको रोजमर्रा की जिंदगी में परेशानी हो सकती है। अगर आप गाड़ी चलाते समय ठीक से देख नहीं पा रहे हैं, तो यह खतरनाक भी हो सकता है।

रंग धारणा में बदलाव

जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद भी रंग धारणा में बदलाव का कारण बन सकता है। इसका मतलब है कि आपको रंग पहले की तुलना में हल्के या कम चमकीले दिखाई देते हैं। साथ ही आपकी दृष्टि पहले की तुलना में रोशनी के प्रति ज्यादा संवेदनशील होती है। यह बदलाव आपके लिए टीवी देखने या कंप्यूटर पर काम करने जैसी रोजमर्रा की गतिविधियों को ज्यादा कठिन बना सकते हैं।

आंखों में दर्द और रोशनी के प्रति संवेदनशीलता

जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद आंखों में दर्द या प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता भी पैदा कर सकता है। अगर आपके पास जल्दी शुरू होने वाला मोतियाबिंद है, तो आपकी आंखें तेज रोशनी के प्रति संवेदनशील होती हैं। साथ ही तेज रोशनी के संपर्क में आने पर उन्हें चोट लगती है। आप यह भी देख सकते हैं कि आपकी आंखें सामान्य से ज्यादा आसानी से थकी हुई या तनावग्रस्त महसूस करती हैं। यह लक्षण माइग्रेन वाले लोगों में भी आम है।

दोहरी दृष्टि

इस प्रकार के मोतियाबिंद का एक अन्य लक्षण दोहरी दृष्टि है। इसका मतलब है कि आपको किसी भी चीज के दो चित्र दिखाई देते हैं। दोहरी दृष्टि बहुत भ्रामक हो सकती है और पढ़ने या गाड़ी चलाने जैसी रोजमर्रा की गतिविधियां मुश्किल बना सकती है। हालांकि, सर्जरी के जरिए इस लक्षण को ठीक किया जा सकता है।

रंगों का फीका या पीला दिखना

जल्दी शुरू होने वाले मोतियाबिंद के कारण रंग फीका या पीला भी दिखाई दे सकता है। इसका मतलब है कि आपको रंग पहले की तुलना में फीके दिखाई देते हैं। साथ ही आपको सफेद वस्तुएं पीली दिखती हैं। इन बदलावों से आपको कंट्रास्ट देखने में कठिनाई होती है, जिससे आपको गाड़ी चलाते समय या पढ़ते समय समस्या हो सकती है।

तेज रोशनी की जरूरत

जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद आपको पढ़ने या सिलाई जैसी गतिविधियों के लिए भी तेज रोशनी की जरूरत का कारण बन सकता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि मोतियाबिंद कम रोशनी में देखने में मुश्किल पैदा करता है। आप अपने टेलीविजन की चमक बढ़ाते हैं या लैंप का उपयोग पहले से ज्यादा बार कर सकते हैं। कभी-कभी आपको घर के अंदर धूप का चश्मा पहनने की भी जरूरत हो सकती है।

यह जल्दी शुरु होने वाले मोतियाबिंद के कुछ प्रमुख लक्षण हैं। अगर आपके पास इनमें से कोई भी लक्षण है, तो मूल्यांकन के लिए नेत्र रोग विशेषज्ञ को दिखाना जरूरी है। इसके अलावा जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद का इलाज सर्जरी से किया जा सकता है। ऐसे में दृष्टि हानि को रोकने के लिए जल्द से जल्द इलाज करवाना जरूरी है।

कारण – Causes In Hindi

Possible Reasons for Early Onset Cataractsइस प्रकार के मोतियाबिंद के कई संभावित कारण हैं, जैसे:

यूवी किरणों से संपर्क

जल्दी शुरु होने वाले मोतियाबिंद के सबसे आम कारणों में से एक पराबैंगनी किरणों के संपर्क है। ऐसे में आपके लिए धूप का चश्मा पहनना जरूरी है, जो बाहर जाते समय यूवी प्रकाश को ब्लॉक करता है। इसके अलावा यह आपको सनलैम्प और टैनिंग बेड से बचाता है।

डायबिटीज

डायबिटीज वाले लोगों में बिना डायबिटीज वाले लोगों के मुकाबले कम उम्र में मोतियाबिंद होने का खतरा ज्यादा होता है। अगर आपको डायबिटीज है, तो अपने रक्त शर्करा स्तर को नियंत्रित करना और डॉक्टर से नियमित संपर्क करना जरूरी है। कभी-कभी मोतियाबिंद का इलाज सर्जरी से किया जा सकता है।

धूम्रपान

धूम्रपान करने वालों को भी इस प्रकार का मोतियाबिंद होने का ज्यादा खतरा होता है। अगर आप धूम्रपान करते हैं, तो आपके लिए इसे जल्द से जल्द छोड़ना जरूरी है। इसमें आपकी मदद करने के लिए कई संसाधन उपलब्ध हैं, इसलिए अपने डॉक्टर से बात करें और अपने लिए सबसे अच्छा विकल्प जानने की कोशिश करें।

पारिवारिक इतिहास

अगर आपके परिवार में किसी को मोतियाबिंद है, तो आपको इसे विकसित होने का ज्यादा खतरा रहता है। ऐसे में आपके लिए अपने डॉक्टर से नियमित तौर पर संपर्क करना जरूरी है, फिर भले ही आपमें कोई लक्षण नहीं हों। इस प्रकार शुरुआती निदान और उपचार से मोतियाबिंद की प्रोग्रेस को रोकने में मदद मिल सकती है।

उच्च रक्तचाप

उच्च रक्तचाप भी मोतियाबिंद के विकास में योगदान कर सकता है। ऐसे में अगर आपको उच्च रक्तचाप है, तो इसे नियंत्रित करने के लिए अपने डॉक्टर के साथ काम करना जरूरी है। इसमें जीवनशैली से संबंधित कई बदलाव शामिल हो सकते हैं, जैसे स्वस्थ आहार खाना, नियमित व्यायाम करना और दवा लेना।

स्टेरॉयड दवाएं

ऐनाबोलिक स्टेरॉयड और स्टेरॉयड युक्त अन्य दवाएं मोतियाबिंद के विकास का आपका जोखिम बढ़ा सकती हैं। अगर आप किसी प्रकार की स्टेरॉयड दवा लेते हैं, तो जोखिम और फायदों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करना जरूरी है।

पिछली आंखों की सर्जरी

कभी-कभी ग्लूकोमा जैसी अन्य आंखों की स्थितियों के इलाज के लिए सर्जरी के बाद मोतियाबिंद विकसित हो सकता है। अगर आपकी पिछली आंख की सर्जरी हुई है, तो मोतियाबिंद के विकास के जोखिमों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करना जरूरी है।

कुछ बीमारी

अल्जाइमर और पार्किंसंस जैसी कुछ बीमारियां आपके मोतियाबिंद के विकास का जोखिम बढ़ा सकती हैं। ऐसे में अगर आपको कोई चिकित्सा स्थिति है, तो आपके लिए अपने डॉक्टर से बात करना जरूरी है।

इस प्रकार जल्दी शुरु होने वाले मोतियाबिंद के कई संभावित कारण हैं, जिन्हें मोतियाबिंद सर्जरी के साथ ठीक किया जा सकता है। अगर आपको इस प्रकार का मोतियाबिंद है, तो मूल्यांकन के लिए अपने डॉक्टर को दिखाना जरूरी है।

उपचार – Treatment In Hindi

How To Treat Early Onset Cataracts?जल्दी शुरु होने वाले मोतियाबिंद का इलाज दो गुना प्रक्रिया है। इसके लिए आपको अपनी आंखें ज्यादा नुकसान से बचाने की सलाह दी जाती है, जिससे मोतियाबिंद की प्रोग्रेस को धीमा करने में मदद मिलती है। साथ ही आपको सर्जरी द्वारा मोतियाबिंद हटाकर अपनी दृष्टि में सुधार करने की जरूरत है। ऐसी ही कुछ उपचार विधियां निम्नलिखित हैं:

मोतियाबिंद ऑपरेशन

सर्जरी जल्दी शुरु होने मोतियाबिंद के इलाज में सबसे प्रभावी तरीका है। आमतौर पर मोतियाबिंद सर्जरी को आपकी दृष्टि में सुधार का सबसे सुरक्षित और प्रभावी तरीका माना जाता है। इस दौरान सर्जन आपकी आंख में एक छोटा चीरा लगाते हैं और फिर मोतियाबिंद को हटाते हैं। मोतियाबिंद सर्जरी आमतौर पर आउट पेशेंट प्रक्रिया के आधार पर की जाती है। इसका मतलब है कि आप उसी दिन घर जा सकते हैं।

मोतियाबिंद सर्जरी के लिए रिकवरी का समय बहुत कम होता है और ज्यादातर लोगों को प्रक्रिया के बाद बहुत कम या कोई असुविधा नहीं होती है। अगर आपके पास जल्दी शुरू होने वाला मोतियाबिंद है, तो उपचार विकल्पों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करना सुनिश्चित करें। यह सर्जरी बहुत सुरक्षित और प्रभावी प्रक्रिया है, जो दृष्टि सुधार में आपकी मदद कर सकती है।

लेंस

सर्जरी का एक विकल्प लेंस के साथ जल्दी शुरु होने वाले मोतियाबिंद का इलाज करना है। लेंस आमतौर पर उन लोगों में उपयोग किए जाते हैं, जिन्हें सर्जरी से जटिलताओं का ज्यादा खतरा होता है। यह लेंस आंखों में लगाए जाते हैं और दृष्टि सुधार में आपकी मदद करते हैं। लेंस दो प्रकार के होते हैं, जिनमें इंट्राओकुलर लेंस यानी आईओएल और कॉन्टैक्ट लेंस शामिल हैं।

आईओएल आंखों में स्थायी रूप से रखे जाते हैं। जबकि कॉन्टैक्ट लेंस अस्थायी होते हैं, जिन्हें नियमित रूप से हटाने और साफ करने की जरूरत होती है। अगर आपको जल्दी शुरू होने वाला मोतियाबिंद है, तो आपके डॉक्टर लेंस के साथ उपचार की सिफारिश कर सकते हैं। लेंस आमतौर पर सुरक्षित और प्रभावी होते हैं और दृष्टि सुधार में आपकी मदद कर सकते हैं।

दवाएं

कुछ मामलों में इस मोतियाबिंद के इलाज में दवा का इस्तेमाल किया जा सकता है। दवाएं मोतियाबिंद की प्रोग्रेस को धीमा करने और दृष्टि सुधार में आपकी मदद कर सकती हैं। इसका उपयोग आमतौर पर उन लोगों के लिए किया जाता है, जिन्हें सर्जरी से जटिलताओं का ज्यादा खतरा होता है।

अगर आपके पास जल्दी शुरू होने वाला मोतियाबिंद है, तो आपके डॉक्टर दवा के साथ उपचार की सिफारिश कर सकते हैं। दवा आमतौर पर सुरक्षित और प्रभावी होती है और दृष्टि सुधार में आपकी मदद कर सकती है।

रोकथाम – Prevention In Hindi

जल्दी शुरु होने वाले मोतियाबिंद का इलाज करने का सबसे अच्छा तरीका है कि उन्हें पहले स्थान पर होने से रोका जाए। मोतियाबिंद के विकास का अपना जोखिम को कम करने के लिए आप कुछ चीजें कर सकते हैं, जैसे:

  • धूप का चश्मा पहनें: यह आपकी आंखों को सूरज की हानिकारक यूवी किरणों से बचाने में मदद कर सकता है। इसके लिए एक ऐसे धूप के चश्मे की तलाश करें, जो 99 या 100 प्रतिशत यूवी किरणों को रोकते हों।
  • धूम्रपान से परहेज करें: तंबाकू के सेवन को मोतियाबिंद का एक प्रमुख कारण माना जाता है। अगर आप धूम्रपान करते हैं, तो आपको आंखों के स्वास्थ्य के लिए इसे छोड़ने की सलाह दी जाती है।
  • स्वस्थ आहार खाएं: एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर आहार खाने से आपको मोतियाबिंद के विकास का जोखिम कम करने में मदद मिल सकती है। इनमें पत्तेदार हरी सब्जियां, खट्टे फल और मछली शामिल हैं।
  • आंखों की चोटों से बचें: आंखों की चोटें आपके मोतियाबिंद के विकास का जोखिम को बढ़ा सकती हैं। ऐसे में अगर आप खेल खेलते हैं, तो सुरक्षात्मक आईवियर पहनना जरूरी है। अगर आप ऐसे माहौल में काम करते हैं, जो आपकी आंखों के लिए खतरनाक है, तो उचित सुरक्षा उपकरण पहनना सुनिश्चित करें।

अगर आपके पास जल्दी शुरू होने वाला मोतियाबिंद है, तो उनका इलाज करने के लिए आप कुछ चीजें कर सकते हैं। इसके अलावा सर्जरी, लेंस और दवाएं सभी इस मोतियाबिंद के प्रभावी उपचार विकल्प हैं। हालांकि, अपनी आंखों को नुकसान से बचाने के लिए जरूरी कदम उठाना जल्दी शुरु होने वाले मोतियाबिंद को रोकने का सबसे अच्छा तरीका है ।

क्या आप भी आँखों की समस्याओं से परेशान है?

निष्कर्ष – Conclusion In Hindi

जल्दी शुरु होने वाला मोतियाबिंद एक गंभीर स्थिति है, जिससे दृष्टि हानि हो सकती है। अगर आपको या आपके बच्चे को जल्दी शुरू होने वाला मोतियाबिंद है, तो तुरंत एक नेत्र रोग विशेषज्ञ को दिखाना जरूरी है। इस प्रकार के मोतियाबिंद का कोई इलाज नहीं है, लेकिन इलाज से दृष्टि में सुधार किया जा सकता है। साथ ही उचित देखभाल के साथ जल्दी शुरु होने वाले मोतियाबिंद से पीड़ित लोग सामान्य और स्वस्थ जीवन जी सकते हैं। इससे संबंधित ज्यादा जानकारी या मार्गदर्शन के लिए अपने आई मंत्रा से संपर्क करना सुनिश्चित करें।

मोतियाबिंद सर्जरी एक सुरक्षित और दर्द रहित प्रक्रिया है। अगर आपके कोई सवाल या परेशानी है, तो आज ही आई मंत्रा के अनुभवी नेत्र रोग विशेषज्ञों से संपर्क करना सुनिश्चित करें। आई मंत्रा में हमारे पास अनुभवी आंखों के सर्जनों की एक टीम है, जो मोतियाबिंद सर्जरीमोतियाबिंद सर्जरी की कीमत, मोतियाबिंद सर्जरी के अलग-अलग प्रकारों के लिए मोतियाबिंद लेंस की कीमत- फेकोइमल्सीफिकेशनएमआईसीएस और फेम्टो लेजर मोतियाबिंद पर आपके किसी भी सवाल का जवाब देने में सक्षम है। ज्यादा जानकारी के लिए हमें +91-9711116605 पर कॉल या [email protected] पर ईमेल करें।